Movie : Mughal-E-Azam (1960)

Lyrics of Jab Raat Hai Aisi Matwali

Lyrics in English

Ye Dil Ki Lagi Kam Kya Hogi
Ye Ishk Bhala Kam Kya Hoga
Jab Raat Hai Aisi Matwali (2)
Phir Subah Ka Aalam Kya Hoga (2)……..
Nagmo Se Barasti Hai Masti
Chhalke Hai Khushi Ke Paimane
Chhalke Hai Khushi Ke Paimane
Aaj Asi Bahaaren Aayee Hain
Kal Din Me Banenge Afsaane
Kal Din Me Banenge Afsaane
Ab Is Se Jyaa Aur Hasee
Ye Pyar Ka Mausam Kya Hoga
Ab Is Se Jyada Aur Hasee
Ye Pyar Ka Mausam Kya Hoga
Jab Raat Hai Aisi Matwali
Phir Subah Ka Aalam Kya Hoga (2)………
Ye Aaj Ka Rang Aur Ye Mehfil
Dil Bhi Hai Yahan Dildar Bhi Hai
Dil Bhi Hai Yahan Dildar Bhi Hai
Aankhon Me Kayamat Ke Jalwe
Seene Me Tadapta Pyar Bhi Hai
Seene Me Tadapta Pyar Bhi Hai
Is Rang Me Koyee Jee Le Agar
Marne Ka Use Gham Kya Hoga
Is Rang Me Koyee Jee Le Agar
Marne Ka Use Gham Kya Hoga
Jab Raat Hai Aisi Matwali
Phir Subah Ka Aalam Kya Hoga (2)………
Haalat Hai Ajab Deewano Ki
Ab Khair Nahi Parwano Ki
Ab Khair Nahi Parwano Ki
Anjaam-E-Mohabbat Kya Kahiye
Lay Badhne Lagi Armaano Ki
Lay Badhne Lagi Armaano Ki
Aise Me Jo Payal toot Gayee
Phir Aye Mere Hamdam Kya Hoga
Aise Me Jo Payal toot Gayee
Phir Aye Mere Hamdam Kya Hoga
Jab Raat Hai Aisi Matwali
Phir Subah Ka Aalam Kya Hoga (2)……..

Lyrics in Hindi

ये दिल की लगी कम क्या होगी 
ये इश्क भला कम क्या होगा
जब रात है ऐसी मतवाली (2)
फिर सुबह का आलम क्या होगा (2)........
नग्मों से बरसती है मस्ती
छलके है ख़ुशी के पैमाने 
छलके है ख़ुशी के पैमाने 
आज ऐसी बहारें आयी हैं 
कल दिन में बनेंगे अफ़साने 
कल दिन में बनेंगे अफ़साने
अब इस से ज़्यादा और हसीं 
ये प्यार का मौसम क्या होगा 
अब इस से ज़्यादा और हसीं 
ये प्यार का मौसम क्या होगा 
जब रात है ऐसी मतवाली
फिर सुबह का आलम क्या होगा (2)........
ये आज का रंग और ये महफ़िल 
दिल भी है यहाँ दिलदार भी है 
दिल भी है यहाँ दिलदार भी है  
आँखों में क़यामत के जलवे 
सीने में तड़पता प्यार भी है 
सीने में तड़पता प्यार भी है 
इस रंग में कोई जी ले अगर 
मरने का उसे ग़म क्या होगा
इस रंग में कोई जी ले अगर 
मरने का उसे ग़म क्या होगा
जब रात है ऐसी मतवाली
फिर सुबह का आलम क्या होगा (2)........
हालत है अजब दीवानो की
अब खैर नहीं परवानों की 
अब खैर नहीं परवानों की 
अंजाम-ए-मोहब्बत क्या कहिये 
लय बढ़ने लगी अरमानों की 
लय बढ़ने लगी अरमानों की 
ऐसे में जो पायल टूट गयी 
फिर ए मेरे हमदम क्या होगा 
ऐसे में जो पायल टूट गयी 
फिर ए मेरे हमदम क्या होगा 
जब रात है ऐसी मतवाली
फिर सुबह का आलम क्या होगा (2)........

Trending New Songs

Pushpa Pushpa..

Film: Pushpa: The Rule-Part 2

Wallah Habibi..

Film: Bade Miyan Chote Miyan (2024)

Mast Malang Jh..

Film: Bade Miyan Chote Miyan (2024)

Mawaa Enthaina..

Film: Guntur Kaaram (2024)

Nazar Teri Too..

Film: Merry Christmas

Kurchi Madatha..

Film: Guntur Kaaram (2024)

View More