Song : Bachche Man Ke Sachche

Singer: Lata Mangeshkar
Star Cast: Neetu Singh
Song Lyricist:     Sahir Ludhiyanvi
Music Director/Composer:     Ravi

Other Song Of Do Kaliyaan (1968)

1. Tumhari Nazar Kyon Khafa
2. Bachche Man Ke Sachche

Lyrics in English

 Bachche Man Ke Sachche (2)
Saari Jag Ki Aankh Ke Taare
Ye Wo Nanhe Phool Hain Jo
Bhagwaan Ko Lagte Pyare
Bachche Man Ke Sachche……….
Khud Roothe Khud Man Jaayen
Phir Hamjoli Ban Jaayen
Jhagda Jis Ke Saath Karen
Agle Hi Pal Phir Baat Karen
Jhagda Jis Ke Saath Karen
Agle Hi Pal Phir Baat Karen
In Ko Kisi Se Bair Nahi
In Ke Liye Koyee Gair Nahi
In Ka Bholapan Milta Hai
Sab Ko Baanh Pasaare
Bachche Man Ke Sachche
Saari Jag Ki Aankh Ke Taare
Ye Wo Nanhe Phool Hain Jo
Bhagwaan Ko Lagte Pyare
Bachche Man Ke Sachche……….
Insaa Jab Tak Bachcha Hai
Tab Tak Samjho Sachcha  Hai
Jyon Jyon Us Ki Umar Badhe
Man Par Jhooth Ka Mail Chadhe
Krodh Badhe Nafrat Ghere
Lalach Ki Aadat Ghere
Bachapan In Papon Se Hat Kar
Apni Umar Guzaare
Bachche Man Ke Sachche
Saari Jag Ki Aankh Ke Taare
Ye Wo Nanhe Phool Hain Jo
Bhagwaan Ko Lagte Pyare
Bachche Man Ke Sachche……….
Tan Komal Man Sundar Hai
Bachche Badon Se Behtar Hain
In me Chhoot Aur Chhaat Nahi
Jhoothi Jaat Aur Paat Nahi
Bhashha Ki Takaraar Nahi
Mazhab Ki Deewaar Nahi
In Ki Nazaron Me Ek Hain
Mandir Maszid Gurudware
Bachche Man Ke Sachche
Saari Jag Ki Aankh Ke Taare
Ye Wo Nanhe Phool Hain Jo
Bhagwaan Ko Lagte Pyare
Bachche Man Ke Sachche
Saari Jag Ki Aankh Ke Taare
Ye Wo Nanhe Phool Hain Jo
Bhagwaan Ko Lagte Pyare
Bachche Man Ke Sachche (2)……….

Lyrics in Hindi

बच्चे मन के सच्चे (2)
सारी जग की आँख के तारे
ये वो नन्हे फूल हैं जो
भगवान को लगते प्यारे
बच्चे मन के सच्चे……….
खुद रूठे खुद मन जाएँ
फिर हमजोली बन जाएँ
झगड़ा जिस के साथ करें
अगले ही पल फिर बात करें
झगड़ा जिस के साथ करें
अगले ही पल फिर बात करें
इन को किसी से बैर नहीं
इन के लिए कोई गैर नहीं
इन का भोलापन मिलता है 
सब को बांह पसारे
बच्चे मन के सच्चे
सारी जग की आँख के तारे
ये वो नन्हे फूल हैं जो
भगवान को लगते प्यारे
बच्चे मन के सच्चे……….
इंसा जब तक बच्चा है
तब तक समझो सच्चा है
ज्यों ज्यों उस की उमर बढ़े
मन पर झूठ का मैल चढ़े
क्रोध बढ़े नफरत घेरे
लालच की आदत घेरे
बचपन इन पापों से हट कर
अपनी उमर गुज़ारे
बच्चे मन के सच्चे
सारी जग की आँख के तारे
ये वो नन्हे फूल हैं जो
भगवान को लगते प्यारे
बच्चे मन के सच्चे……….
तन कोमल मन सुन्दर है
बच्चे बड़ों से बेहतर हैं
इन में छूत और छात नहीं
झूठी जात और पात नहीं
भाषा की तकरार नहीं
मज़हब की दीवार नहीं
इन की नज़रों में एक हैं
मंदिर मस्जिद गुरूद्वारे
बच्चे मन के सच्चे (2)
सारी जग की आँख के तारे
ये वो नन्हे फूल हैं जो
भगवान को लगते प्यारे
बच्चे मन के सच्चे
सारी जग की आँख के तारे
ये वो नन्हे फूल हैं जो
भगवान को लगते प्यारे
बच्चे मन के सच्चे  (2)……….

Trending Songs

Ek Toh Kam Zin..

Film: Marjaavaan (2019)

So Gaya Yeh Ja..

Film: Bypass Road (2019)

Jai Jai Shivsh..

Film: War (2019)

View More